Breaking News
Breaking News
{"ticker_effect":"slide-v","autoplay":"true","speed":3000,"font_style":"normal"}

भिक्षुकों की होगी जियो टैगिंग, पुनर्वास भी करेंगे

June 17, 2022
63
Views

Ujjain : शहर को भिक्षुक मुक्त करने के लिये शीघ्र ही भिक्षुकों का जियो टैगिंग के आधार पर सर्वे किया जाएगा। सर्वे के साथ-साथ ही भिक्षुकों के पुनर्वास, उनके उपचार एवं बेघर लोगों को रैन बसेरे में शरण देने की व्यवस्था की जायेगी।

कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में बृहस्पति भवन में हुई बैठक में यह निर्देश दिए गए। इसमें यह तय किया गया कि उज्जैन शहर को भिक्षावृत्ति से मुक्त कराने के लिये सघन अभियान चलाया जाए। मंदिरों के आसपास भिक्षावृत्ति करने वाले बच्चे, वयस्क एवं वृद्ध भिक्षुकों को हटाने एवं उनके पुनर्वास में संवेदनशीलता के साथ कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। इसी के साथ कलेक्टर ने उज्जैन शहर को भिक्षुक मुक्त करने के लिये सामाजिक संस्थाओं एवं मीडिया से सहयोग लेने का कहा है। भिक्षावृत्ति मुक्त प्रदेश एवं उज्जैन शहर के लिये भारत सरकार की स्माइल स्कीम के तहत भारत सरकार को प्रस्ताव प्रेषित किया गया है।

बैठक इंदौर शहर को भिक्षुक मुक्त करने के लिये किये गए प्रयासों की विस्तार से जानकारी दी गई। शहर में चार व्यक्तियों की टीम अलग-अलग क्षेत्र में सर्वे करेगी और इनके साथ एक-एक होमगार्ड की ड्यूटी लगाई जाएगी। जो लोग स्वयं के घरों में रहकर भिक्षावृत्ति करते हैं, उनके लिये काउंसलिंग एवं स्किल डेवलपमेंट के कार्य किए जाएंगे। शेल्टर रूम में रहने वाले भिक्षुकों को भोजन, चिकित्सा की सुविधा दी जाएगी। गंभीर बीमार भिक्षुकों को अलग रखा जाएगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Article Categories:
Breaking News · Quick News · उज्जैन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The maximum upload file size: 32 MB. You can upload: image, audio, video, document, spreadsheet, interactive, text, archive, code, other. Links to YouTube, Facebook, Twitter and other services inserted in the comment text will be automatically embedded. Drop file here

OMG Площадка ОМГ